तो इस समर वेकेशन बच्चों ने क्या नया सीखा

यह आर्ट क्लास जाने और रूटीन एक्सरसाइज सीखने का समय

स्कूल के दिनों में बच्चों के पास कुछ नया करने या सीखने के लिए ज्यादा समय नहीं बचता। ऐसे में जरूरी है कि गर्मी की छुटि्टयों को किसी हाल में बर्बाद न होने दिया जाए। माता-पिता इस समय बच्चों को समर कैंप भेजें, रूटीन एक्सरसाइज सिखाएं या छोटे-मोटे काम में हाथ बटवाएं। इससे उनके साथ आपके रिश्ते भी मजबूत होंगे।
गर्मी की छुटि्टयां सिर्फ मौज और मस्ती के लिए नहीं, बल्कि बच्चों और उनके माता-पिता के रिश्तों को बेहतर बनाने का जरिया भी हो सकती हैं। जहां अभिभावक अपने बच्चों को कुछ ऐसी चीजें सिखा सकते हैं जो उनके जीवन में आगे काम आएंगी, वहीं बच्चे भी कुछ ऐसा सीख सकते हैं, जो उन्हें एक नया ज्ञान दे। माता-पिता को चाहिए कि वे अपने बच्चों को घर में बैठाने की जगह स्कूल में आयोजित की जाने वाली एक्सट्रा करिकुलम एक्टिविटी में भेजें। बच्चे भी फ्रेंड्स के साथ एक्टिविटीज में भाग लेने के लिए अासानी से तैयार भी हो जाएंगे।


जरूरी काम सिखाएं तो अचछा
  • कई ऐसे काम होते हैं जो हमारी दिनचर्या से जुड़े होते हैं। हम गर्मी की छुटि्टयों में बच्चों को इन कामों की सीख दे सकते हैं। जैसे सुबह अखबार पढ़ना। रोजाना स्कूल जाने के कारण वे अखबार नहीं पढ़ पाते हैं, लेकिन यदि छुटि्टयों में वे नियमित अखबार पढ़ेंगे तो उनके ज्ञान में वृद्धि होगी और उनमें पढ़ने की आदत आएगी।

  • बैंक से ट्रांजेक्शन करना भी बच्चों को सिखाया जा सकता है। बैंक से किस तरह पैसे निकाले और किस तरह जमा किए जाते हैं यह उन्हें बताएं।

  • गैस की बुकिंग करना, ऑनलाइन टिकट बुक करना जैसी बातें भी उन्हें बताएं।

  • घर में किचन के कामों की ट्रेनिंग भी छुटि्टयों में ही दी जाना चाहिए।

  • आपकी अनुपस्थिति में बच्चे मेहमानों को कैसे हैंडल करें, उन्हें इसका ज्ञान भी दें।

इन एक्टिविटीज में ले सकते हैं भाग
  • समर कैंप - गर्मी की छुट्टियों में समर कैंप में बच्चों का एडमिशन करवा दें, क्योंकि इन कैंप को लगाने से अापके बच्चों को अलग अनुभव मिलता है। साथ ही वह स्वतंत्र रूप से चीजों को मैनेज करना भी सीख सकते हैं।

  • रूटीन एक्सरसाइज क्लासेस - अगर अाप अपने बच्चों को वेकेशन में कहीं घुमाने नहीं लेकर जा सकते तो घर में बैठाने की जगह उन्हें रूटीन एक्सरसाइज सिखाएं। साथ ही उन्हंे योग, कराटे, स्वीमिंग कलासेस अादि के लिए प्रेरित करें ताकि वे स्वस्थ भी रहें।

  • क्रिएटिव आर्ट क्लासेस - जो बच्चे क्रिएटिव आर्ट का शौक रखते हैं उन्हें उसका शौक पूरा करने के लिए गर्मी की छुट्टियों में क्रिएटिव आर्ट क्लासेस जरूर ज्वाइन करवाएं। एेसा करने से उनकी छुट्टियां बोरिंग नहीं होंगी और वह मौज-मस्ती से अपने दोस्ते के साथ अपनी वेकेशन को बिता सकेंगे।

  • फैमिली ट्रिप पर साथ लेकर जाएं - वेकेशन में बच्चों को घुमाने के लिए फैमिली ट्रिप प्लान करें। एेसा करने से अाप अपने बच्चों के साथ क्वालिटी टाइम बिता सकते हैं। बच्चे इस फैमिली ट्रिप को हमेशा याद भी रखंेगे।
अापकी मदद करने के लिए कहें

छुट्टियों में बच्चों को बिजी रखना चाहते हैं तो अाप घर के छोटे-छोटे कामों में उनकी मदद ले सकते हैं। इस मदद से बच्चों के कमरे में पड़ी बुक अौर टॉय को अच्छे से अरेंज कर सकते हैं। एेसा करने से वे व्यस्त रहने के साथ अनुशासन भी सीखेंगे।
Published in Dainik Bhaskar "DB Star Indore" on 2016, May 17

Comments